रक्तदान महादान का ‘ समर्थन ‘

रक्तदान से जरूरतमंद की जिंदगी को बचाया जा सकता है
रक्तदान महादान मिशन को सफल बनाने सहयोग की अपील

कार्यकर्ताओ द्वारा रक्तदान

समर्थन, सेंटर फॉर डव्लपमेंट सपोर्ट भोपाल, जिला कार्यालय मंडला द्वारा रक्तदान महादान के लिए पहल की गई है। इसके पहले संस्था द्वारा जनवरी में जरूरतमंदों को जीवनदान देने के लिए नई पहल की थी। जिसमें संस्था के पांच कार्यकर्ता द्वारा रक्तदान किया गया था। इसी तारतम्य में 3 जुलाई को संस्था के 19 कार्यकर्ता द्वारा इस मिशन को आगे बढ़ाते हुए रक्तदान किया गया। इस दौरान नोडल अधिकारी डॉ. वाय के झारिया, आरकेएसके जिला समन्वयक डॉ. अभिषेक मिश्रा,  समर्थन संस्था से रीजनल कोआडिनेटर रामकुमार सिंगौर, जिला समन्वयक अशोक जंघेला, पीएलए से अशोक लोध समेत अन्य प्रशिक्षक मौजूद रहे। 
बता दे कि संस्था द्वारा आरकेएसके, चाई और पीएलए कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। इन कार्यक्रमों का भी उद्देश्य मातृ मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर कम करने पर फोकस है। इसके तहत एनीमिक और कुपोषित बच्चों को चिन्हित कर उनका उपचार कराया जाता है। जिससे एनीमिक और कुपोषित बच्चों की संख्या में कमी लाई जा सके। इसी के तहत पीसी अंकुर चौरसिया ने ग्राम अहमदपुर से एक  कुपोषित बच्ची सानिया रघुवंशी 1 साल 6 माह को एनआरसी में आज भर्ती कराया। जिसका एचबी भी कम था। इस बच्ची का उपचार शुरू कर दिया गया है। 
संस्था के जिला समन्वयक अशोक जंघेला ने बताया कि एनीमिक, कुपोषित बच्चों  और जरूरतमंदों के जीवन दान के लिए शुरू की गई इस नई पहल से किसी की जिंदगी को बचाया जा सकेगा। इसी सोच से सीएचएमओ डॉ. केसी सरोते, संस्था के रीजनल कोआर्डिनेटर रामकुमार सिंगौर जी के मार्गदर्शन में जिला चिकित्सालय स्थित ब्लड बैंक में संस्था के कार्यकर्ताओं द्वारा रक्तदान किया गया। 
रक्तदान से जरूरतमंद की जिंदगी को बचाया जा सकता है:
किसी जरूरतमंद की जिंदगी को बचाने के लिए शुरू की गई इस पहल को लेकर संस्था के रीजनल कोआडिनेटर रामकुमार सिंगौर ने आमजनों से अपील की है कि नियमित अंतराल पर रक्तदान करें तो कई जरूरतमंद लोगों की जिंदगी को बचाया जा सकता है। इस छोटी सी पहल से वे पुण्य का काम तो करेंगे ही, रक्तदान से उनके शरीर में कोई नुकसान नहीं होगा। उनका कहना है कि हम में से ज्यादातर लोग रक्तदान के लिए इसलिए आगे नहीं आते कि रक्तदान से हम कमजोर हो जायेंगे या फिर रक्तदान से हमें गंभीर रोग हो सकता है और रक्तदान में काफी दर्द होगा। श्री सिंगौर जी ने कहा कि  यदि हम थोड़ा सजग रहें तो रक्तदान के सिर्फ फायदे ही हैं, नुकसान कुछ भी नहीं। रक्तदान के कई फायदे हैं नियमित अंतराल पर रक्तदान करने से शरीर में आयरन की मात्रा संतुलित रहती है और रक्तदाता हार्ट अटैक से दूर रहता है। यह कोलेस्ट्रॉल को कम करता है, रक्तचाप को नियंत्रित करता है, इससे ज्यादा कैलोरी व वसा बर्न होता है और शरीर फिट रहता है। रक्तदान से न केवल किसी व्यक्ति का जीवन बचता है, बल्कि रक्तदाता में नई कोशिकाओं का भी निर्माण होता है।


इन्होंने ने किया रक्तदान:


रक्तदान महादान के मिशन में 19 लोगों ने रक्तदान किया। जिसमें से 7 लोगों ने पहली बार रक्तदान किया। रक्तदान करने में रीजनल कोआडिनेटर रामकुमार सिंगौर, जिला समन्वयक अशोक जंघेला, नंदलाल नायक, गौरव हरदहा, प्रहलाद कछवाहा, विनय राय, मनीष सिंगौर, संतोष यादव, आदित्य मिश्रा, शैलेन्द्र बैरागी, संजय पांडे, प्रमोद झारिया, अंकुर चौरसिया, विकास चंद्रौल, हेंमत चंद्रौल, राकेश सिंगरौरे शामिल रहे। इसके साथ दो महिला कार्यकर्ता रंजीता चौरसिया, प्रीति पांडे ने भी रक्तदान किया। इस दौरान प्रशिक्षक संजना राय भी मौजूद रही।  रक्तदान में उपस्थित सभीजनों का उत्साहवर्धन करते हुए उसकी सराहना की। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here