चलित खाद्य प्रयोगशाला द्वारा जागरूकता

भुआ बिछिया । आम जनता तथा स्कूल व कॉलेज के छात्रों को बाजार में बिकने वाली खाद्य सामग्री की गुणवत्ता की पहचान करने एवं खाद्य पदार्थों में होने वाली मिलावट को सामान्य तरीके उपयोग कर पहचानने हेतु मध्य प्रदेश खाद्य सुरक्षा प्रशासन की चलित खाद्य प्रयोगशाला मंडला जिले में भ्रमण कर जागरूकता फैला रही है । आज यह चलित खाद्य प्रयोगशाला बिछिया पहुंची जहां आदर्श उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बिछिया में खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच की पहचान के विभिन्न तरीके एवं आसान टेस्ट का प्रदर्शन किया गया  । खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने आयोडाइज्ड नमक , फोर्टिफाइड फूड के लाभ समझाएं । खाद्य पदार्थों में रंग , दूध , घी मावा, शहद ,मसाले ,दाल आदि में होने वाली मिलावट एवं मिलावट की पहचान करने के तरीके बताते हुए जंक फूड से होने वाली हानियां एवं पैक्ड फ़ूड की लेबलिंग एवं पैकेजिंग की जानकारियां दी गई तथा उचित आहार एवं दिनचर्या को अपनाकर स्वस्थ रहने के तरीके समझाए गए, इसके साथ ही नगर पंचायत बिछिया के सामने आम जनों को चलित खाद्य प्रयोगशाला के माध्यम से खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच के तरीकों का प्रदर्शन कर दिखाया गया ।चलित खाद्य प्रयोगशाला के माध्यम से मंडला जिले के नगरीय एवं ग्रामीण निकायों में भ्रमण कर खाद्य सुरक्षा अधिकारी गीता तांडेकर , वंदना जैन ,वंदना धावले के द्वारा जागरूकता कार्यक्रम चलाया जा रहा है । जिससे अधिक से अधिक आम नागरिक जागरूक हो सकें। वर्तमान में बारिश का मौसम चल रहा है और खाद्य सामग्रियों मैं मिलावट एवं अन्य कारणों से बीमारियां फैलने का खतरा इस मौसम में ज्यादा रहता है ऐसे में सभी नागरिकों को खाद्य सामग्री से जुड़ी एवं मिलावट को कैसे पहचाने इस प्रकार की जानकारी देना अत्यंत आवश्यक है एवं सभी नागरिकों को जागरूक होकर इस जानकारी को अन्य लोगों से साझा करना चाहिए ताकि अधिक से अधिक संख्या में लोग जागरुक हो और खाद्य सामग्री के कारण होने वाली बीमारियों व अन्य दुविधा से बच सकें ।

ReplyForward

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here