जन्मदिन मनाते हैं त्यौहार की तरह

पंडित नरेश शर्मा (पुत्र) एवं पंडित करतार चंद्र शर्मा “एडज्युटेंट

पंडित करतार चंद्र शर्मा एडज्युटेंट का “आजाद हिंद फौज” से रहा विशेष नाता

पंडित श्री करतार चंद्र शर्मा एडज्युटेंट “आजाद हिंद फौज” नेताजी के अभिन्न सहयोगी थे होशियारपुर निवासी श्री शर्मा 1950 में खंडवा में रेलवे में वाणिज्य अधिकारी नियुक्त हुए और उन्होंने अपने जीवन के अंतिम कुछ वर्ष पुत्र नरेश शर्मा सेवानिवृत्त उप पुलिस अधीक्षक के साथ जबलपुर के एमपी पुलिस क्वार्टर में व्यतीत किए, स्वर्गीय श्री शर्मा द्वारा लिखित लेख के अनुसार नेताजी को 10 फरवरी 1921 से 2 जुलाई 1940 के बीच 11 बार गिरफ्तार किया गया 21 अक्टूबर को सिंगापुर पहुंचकर नेताजी ने आजाद हिंद सरकार का गठन किया इस गौरवशाली घटनाक्रम के पंडित करतार चंद्र शर्मा साक्षी रहे, सिंगापुर छोड़ते समय नेता जी ने एक आदेश पारित किया अगले हुकुम तक मेजर जनरल मोहम्मद जमाल क्यनी रियर हेड क्वार्टर सुप्रीम कमांड सिंगापुर के ऑफिस इंचार्ज रहे, श्री शर्मा नेताजी की फौज में एडज्युटेंट थे इसलिए यह आदेश उनके द्वारा टाइप किया गया शहरवासियों की तरह ही पंडित श्री करतार चन्द्र शर्मा के परिवार जन आज भी खंडवा एवं जबलपुर में नेताजी के जन्मदिन को बड़े त्यौहार के रूप में मनाते हैं .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here