एनपीएस के खिलाफ कर्मचारियों का हल्ला बोल

थर्मल स्क्रीनिंग, मास्क, सेनेटाइजर, सोशल डिस्टेंस के साथ दिया धरना

एनपीएस के खिलाफ चल रहे ट्वेटा के प्रदेश व्यापी आंदोलन के क्रम में शनिवार को ब्लॉक शाखा नैखनपुर द्वारा जबरदस्त धरना प्रदर्शन किया गया। आन्दोलनकारी कर्मचारियों की हौसला अफजाई के लिए  प्रांत अध्यक्ष डीके सिंगौर, प्रांतीय प्रवक्ता संजीव सोनी, जिलाध्यक्ष दिलीप मरावी, जिला संयोजक रविंद्र चौरसिया, सहित  रेलवे कर्मचारी, स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी, पटवारी संघ के पदाधिकारी आदि धरना प्रदर्शन एवं रैली कार्यक्रम में शामिल होकर सभी कर्मचारियों को पुरानी पेंशन देने की मांग की। ब्लॉक अध्यक्ष अमर सिंह चंदेला ने एनपीएस का फुलफॉर्म नान पेंशन स्कीम बताया जिसमें सरकार द्वारा कर्मचारियों को किसी भी प्रकार का पेंशन नहीं दिया जा रहा है। ट्वेटा के आन्दोलन को समर्थन देने सिवनी से एनएमओपीएस के प्रांताध्यक्ष परमानन्द डेहरिया, मुकेश बघेल, मो. गुलाम अली, प्रोफेसर डॉ राजेश ठाकुर, संतोष भलावी धरना स्थल पर पहुंचे। ‌
आंदोलित कर्मचारियों ने विशाल रैली के रूप में एनपीएस विरोधी नारों के साथ भ्रमण करते हुए पोस्ट ऑफिस पहुंचे, जहां लेटर बॉक्स में प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम पत्र डालकर पुरानी पेंशन बहाल करने की मांग की। नगर के मुख्य मार्ग में नारेबाजी करते हुए कर्मचारियों की रैली थाना परिसर में पहुंचकर नगर निरीक्षक राजमोहन दुबे को प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप कर कर्मचारियों को एनपीएस से मुक्त कर पुरानी पेंशन बहाल करने तथा  अनुकंपा नियुक्ति के नियमों में शिथिलीकरण की मांग की।

एनपीएस विरोधी धरना प्रदर्शन कार्यक्रम में जिला  वरिष्ठ कार्यकारी जिलाध्यक्ष नंदकिशोर कटारे, महिला अध्यक्ष मीना साहू, कार्यकारी अध्यक्ष रश्मि मरावी, उपाध्यक्ष उमेश यादव, आसित लोध, वंदना सिंह, मीडिया प्रभारी श्याम बैरागी, सचिव संजीव दुबे, महासचिव  भारत विक्रम ब्लॉक अध्यक्ष सुनील नामदेव, कमलेश मरावी, लोक सिंह पदम, धीरज चौधरी, जयदेव मार्को, अशोक अर्सिया, नरेश सैयाम, अनुपमा तिवारी, तारामणि राव, राधा उइके, प्रीति चौहान, तरला पंद्रो, सीमा साहू, सविता कटारे, बंदना जौहरी, गुड़िया राजपूत, शकीला बानो, निधि गुप्ता, कीर्ति उइके, पार्वती झारिया, सरोज वरकड़े, साधना जैन, रेखा चौहान, मुकेश सोलंकी अहमद खान, हरिओम सिरोठिया, सुधीर सोनी, सुरेश श्रीवास्तव, उमा तिवारी, आशीष तिवारी, नफीस खान, मनीष कटकवार, भूपेंद्र चौहान, महेश तिवारी, सादिक खान, अमित मेश्राम,  शहजाद खान, हीरा लाल सेन, प्रदीप जैन, मनोज चौरसिया, मुरली मनोहर कौशल, दिनेश पटेल, अमित  वासनिक, मुकेश  बोरिकर, रविंद्र वैष्य, दादू राम ठाकुर, विजेंद्र वरकडे, आनंद पटेल, ब्रजगोविंद परस्ते, सुखचैन उइके, धनीराम कुंजाम, उज्जवल बढिए, डाहियोज ठाकुर, गौतम सूर, भुनेश्वर धूमकेतु, नीरज हरदहा, वीर सिंह चंदेला, लाल सिंह भलावी, विनीत नामदेव, देवेन्द्र मसकोले, ईवनीस खान, सेवाराम राजपूत, धनेश्वर धुर्वे,  सहित सैकड़ों कर्मचारी शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here