कोरोना से प्रभावित परिवारों के बच्चों को मिलेगा आश्रय

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास से प्राप्त जानकारी अनुसार कोरोना महामारी के व्यापक प्रसार को देखते हुए बच्चों के संरक्षण हेतु महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा पहल की गई है। ऐसे बच्चों जिनके अभिभावकों को कोविड-19 संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती किया गया है उनके देखरेख एवं संरक्षण की आवश्यकता हैं, उनके लिए अस्थाई व्यवस्था बनाई गई हैं। जिले में शासकीय कन्या शिक्षा परिसर चटुआमार जिला मण्डला को ऐसे बच्चों को संरक्षण दिए जाने के लिए फिट फैसिलिटी घोषित किया गया है। ऐसे परिवार के बच्चे जिनके माता-पिता संक्रमित होने के कारण इलाज हेतु अस्पताल में भर्ती हैं एवं परिवार में बालकों की देखभाल के लिए अन्य कोई सदस्य नहीं हैं, ऐसे परिवार के बालकों को तत्काल देखरेख एवं संरक्षण प्रदान किया जाएगा। बालक जो कि 1 से 18 वर्ष तक के आयु के हों, उनके परिजनों के स्वस्थ होने तक उन्हें आवश्यक सहायता दी जाएगी। आप सभी से अनुरोध है कि ऐसे बच्चों के नाम और फोटो सार्वजनिक नहीं करें। इनकी सूचना रितेश बघेल जिनका मो.नं. 8435309646 एवं सौरभ पटवा मो.नं. 9893705043, विनायक पाण्डेय मो.नं. 7974666312, दीपक बाजपेयी (समन्वयक चाईल्ड लाईन) मो.नं. 9893924900 तथा चाईल्ड हेल्पलाईन नंबर 1098 पर दी जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here