कलेक्टर ने किया चिरईडोंगरी, घटेरी, खिरखिरी एवं पिंडरई का दौरा

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने नैनपुर क्षेत्र के अंतर्गत चिरईडोंगरी, घटेरी, खिरखिरी एवं पिंडरई का दौरा किया। उन्होंने चिरईडोंगरी में खाद एवं बीज सोसायटी का औचक निरीक्षण करते हुए संबंधित अधिकारियों से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि खाद एवं बीज की पर्याप्त मात्रा सुनिश्चित रखें। इसी प्रकार खाद एवं बीज के लिए निर्धारित कीमत तथा उपलब्धता की जानकारी सभी सोसायटी एवं दुकानों में चस्पा कराएं। श्रीमती सिंह ने कहा कि खाद एवं बीज का विक्रय निर्धारित कीमत पर ही सुनिश्चित करें। उन्होंने सेल्समैन से पीओएस मशीन तथा स्टॉक रजिस्टर के संबंध में जानकारी मांगी। इस दौरान उन्होंने उपस्थित किसानों से चर्चा करते हुए उनकी समस्याएं तथा फसल बोनी के संबंध में चर्चा की।

कलेक्टर ने घटेरी में बैगा आदिवासियांे सहित युवाओं को कोविड वैक्सीनेशन के लिए जागरूक किया। उन्होंने कहा कि सभी व्यक्ति कोविड वैक्सीन जरूर लगाएं। उन्होंने ग्रामीणों से पेयजल, बिजली, पीडीएस वितरण, मनरेगा, भुगतान तथा स्वास्थ्य के संबंध में जानकारी ली। श्रीमती सिंह ने बैगा आदिवासियों को दी जाने वाली पेंशन के संबंध में भी चर्चा की। सीएमएचओ डॉ. श्रीनाथ सिंह ने स्थानीय लोगों को वैक्सीनेशन के संबंध में विस्तृत जानकारी दी एवं उनकी भ्रांतियों को दूर किया। भ्रमण के दौरान सहायक कलेक्टर अग्रिम कुमार, एडीएम मीना मसराम, एसीईओ श्री मरावी, एसडीएम नैनपुर शिवाली सिंह एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

श्रीमती सिंह ने खिरखिरी में ग्रामीणों से चर्चा कर खाद एवं बीज के बारे में चर्चा की। उन्होंने क्षेत्र में डॉक्टरों तथा एम्बूलेंस की उपलब्धता के संबंध में भी जाना। उन्होंने कहा कि खाद एवं बीज की कालाबाजारी न हो। उन्होंने ग्रामीणों को जैविक खेती अपनाने तथा कम से कम रासायनिक खाद के प्रयोग करने की समझाईश दी। कलेक्टर ने पिंडरई के बाजार क्षेत्र में स्थित सोसायटी का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने खाद एवं बीज की उपलब्धता के बारे में जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि निर्धारित कीमत पर ही खाद एवं बीज का विक्रय सुनिश्चित करें। इसी प्रकार खाद एवं बीज की कालाबाजारी करने वाले पर कड़ी कार्यवाही करें।

पिंडरई आरोग्य केन्द्र का निरीक्षण, वैक्सीनेशन की ली जानकारी

               कलेक्टर हर्षिका सिंह ने पिंडरई आरोग्य केन्द्र का निरीक्षण करते हुए कोविड वैक्सीनेशन की स्थिति जानी। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन के लिए आने वाले व्यक्तियों का वैक्सीनेशन के पूर्व स्वास्थ्य जांच अवश्य करें। इसी प्रकार वैक्सीनेशन के बाद उनके स्वास्थ्य पर निगरानी जरूर रखें। उन्होंने 18, 45 तथा 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को अब तक लगाए गए टीकाकरण के बारे में जाना। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने टीके का प्रथम डोज लगा लिया है उन्हें द्वितीय डोज लगाने के लिए भी प्रेरित करें। इस दौरान उन्होंने आरोग्य केन्द्र में दवाईयों की उपलब्धता एवं स्टॉक पंजी का निरीक्षण भी किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here