बॉडी को फिट रखने बढ़ रहा साइकिलिंग का क्रेज

फिटनेस मेंटेन रखने के साथ शहर वासी उठा रहे ग्रीनरी का भी लुत्फ़

स्वस्थ मन और स्वस्थ शरीर से ही सकारात्मक विचार आते हैं । फिट बॉडी और गुड हेल्थ अगर चाहिए तो दिन की शुरुआत भी एक्सरसाइज से होनी चाहिए। शहर में इस समय साइकिलिंग करने का उत्साह बढ़ता जा रहा है, साइकिलिंग के सफर में लोग लंबी दूरी तय कर रहे हैं और साइकिलिंग बॉडी को फिटनेस रखने में काफी सहायक है । साइकिलिंग के शौकीन लगभग 10 से 20 किलोमीटर भी रोजाना साइकिलिंग करके बॉडी की इम्युनिटी बढ़ा रहे हैं और इससे दिनभर शरीर में एनर्जी बनी रहती है ।आज के समय में फिट रहने के लिए व्यायाम, साइकिलिंग बेहद आवश्यक हो गया है ।देखा जा रहा है इस समय सुबह साइकिलिंग करने वालों का उत्साह बढ़ता जा रहा है । इसके अलावा साइकिलिंग हृदय रोगों के खतरे को भी कम करता है,डायबिटीज के मरीजों को रोजाना साइकिल चलाने की सलाह दी जाती है इसके साथ ही एक रिसर्च के अनुसार साइकिलिंग से डिप्रेशन से छुटकारा पाया जा सकता है ।

लॉकडाउन में सारी आउटडोर गतिविधियां लॉक होने से शारीरिक रूप से हम सभी शिथिल होने लगे थे मैं प्रतिदिन अपने मित्र या पापा के साथ लगभग 20 किमी साइकिलिंग करता हूं, जिससे पूरे शरीर का व्यायाम हो जाता है। सुबह की शुद्ध एवं ताजी हवा में साइकिलिंग करने से एक सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। मुझे पूर्ण विश्वास है कि साइकिलिंग करने से न सिर्फ मेरे फेफड़े मज़बूत हुए हैं बल्कि मै शारीरिक रूप से पूर्ण रूप से स्वस्थ और फिट हुआ हूँ।

आकर्ष दुबे

मैं लगभग चार साल से साइकिलिंग कर रहा हूँ। साइकिलिग करने से शरीर में कॉलेस्ट्रॉल और ब्लडप्रेशर कंट्रोल रखने में मदद मिलती है और शरीर के वजन को नियंत्रित करने में सहायक है ।साइकिलिंग के अन्य फायदे मानसिक तनाव दूर होता है एवं दिन भर शरीर में फिटनेस महसूस होती है,शरीर का इम्यूनिटी पावर बढ़ता है ,शरीर को निरोगी रखने में बेहतर विकल्प है। इससे बचपन के दिनों की यादें ताजा होती हैं इसके साथ ही साइकिलिंग पर्यावरण प्रदूषण को रोकने में सहायक है ।

राजेश पाठक

साइकिलिंग मेरा शौक है और लगभग चार सालों से रोजाना 15 से 20 किमी साइकिलिंग करता हूँ। सुबह सायकिल चलाने से नियमित व्यायाम होता है,और बचपन की यादें तरोताजा होती हैं एवं बच्चों को इससे प्रेरणा मिलती है,आज की इस भाग दौड़ की जिंदगी में कुछ सुकून के पल मिलते हैं।सायकल चलाने से तनाव मुक्त होते हैं एवं आत्मिक संतुष्टि मिलती है । बेहतर फिटनेस और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए साइकिलिंग करने वालों में दिन प्रतिदिन इजाफा हुआ है।

मयंक साहू

मैं लगभग दो साल से रोजाना 15 किमी साइकिलिंग करता हूँ और दिन भर फिटनेस महसूस करता हूँ। दौड़ने की तरह, साइकिल चलाना भी एक मजेदार और फायदेमंद गतिविधि है, जो एक फिटनेस आहार के रूप में लगातार लोकप्रियता हासिल कर रही है। फायदे कई हैं बीमारियों को दूर रखते हुए फिटनेस और सहनशक्ति के स्तर का निर्माण, और वजन घटाने और पैरों में ताकत बढ़ाने के लिए एक महान व्यायाम के रूप में कार्य करना।

युवराज परते

रितेश पमनानी , मंडला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here