जिले को शतप्रतिशत वैक्सीनेट करने सम्मिलित प्रयास आवश्यक – हर्षिका सिंह

कलेक्टर ने किया वैक्सीनेशन कोन्द्रों का निरीक्षण

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने मंडला विकासखण्ड के लिमरूआ, ग्वारा, ठरका, सिलगी एवं नैनपुर विकासखण्ड के रमपुरी, चीचगांव, अलीपुर सहित अन्य ग्रामों के वैक्सीनेशन केन्द्रों का निरीक्षण करते हुए लक्ष्य एवं उपलब्धि की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन करते हुए प्रत्येक पात्र व्यक्ति का वैक्सीनेशन सुनिश्चित करें। कोई भी व्यक्ति वैक्सीनेशन से वंचित नहीं रहना चाहिए। अधिकारी एवं कर्मचारी लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करते हुए उन्हें मोबीलाईज करें। वैक्सीनेशन से शेष बचे लोगों का मतदाता सूची से मिलान कर सूची तैयार करें तथा घर-घर जाकर उनका वैक्सीनेशन सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि टीकाकरण की जानकारी तत्काल पोर्टल पर अपलोड की जाए। भ्रमण के दौरान संबंधित एसडीएम, तहसीलदार सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

श्रीमती सिंह ने निर्देशित किया कि पेंशनधारी, पात्रतापर्चीधारी, जॉबकार्डधारी, श्रमिकों सहित शासन की विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों का चिन्हांकन कर उनका भी वैक्सीनेशन सुनिश्चित करें। संबंधित अधिकारी कर्मचारी सुनिश्चित करें कि उनके कार्यक्षेत्र में कोई भी पात्र व्यक्ति वैक्सीनेशन से वंचित नहीं रहे। कलेक्टर ने भ्रमण के दौरान ग्रामवासियों से चर्चा करते हुए विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में फीडबैक लिया। किसानों से फसलों के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने केन्द्रीय विद्यालय के लिए प्रस्तावित भूमि का भी अवलोकन किया।

स्वयं टीका लगवाते हुए अन्य लोगों को प्रेरित करें

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने ग्रामीणों से चर्चा करते हुए उन्हें आगे आकर टीका लगवाने की बात कही। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर की भयावहता सभी ने देखी है। अतः स्वयं को, अपने परिवार को एवं अपने आसपास के लोगों को सुरक्षित रखने के लिए सभी लोग अनिवार्य रूप से अपना वैक्सीनेशन कराएं। स्वयं टीका लगवाएं तथा अन्य लोगों को भी टीका के लिए प्रेरित करें। कोरोना से बचने के लिए वैक्सीनेशन ही एकमात्र एवं सुरक्षित उपाय है। टीकाकरण से बचे लोगों को आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, कोटवार, रोजगार सहायक, पंचायत सचिव, शिक्षक आदि के माध्यम से मोबीलाईज करें। जो लोग केन्द्र तक नहीं आ रहे हैं उनके घर जाकर वैक्सीनेशन करें। कलेक्टर ने दिव्यांगजनों का वैक्सीनेशन उनके घर में ही करने के निर्देश दिए।

वैक्सीनेशन सेंटर में मूलभूत सुविधाएं सुनिश्चित करें

               कलेक्टर हर्षिका सिंह ने एसडीएम सहित संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि वैक्सीनेशन सेंटरों में बिजली, पेयजल तथा समुचित बैठक व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि टीका लगवाने वाले व्यक्ति से सेंटर में कम से कम आधा घंटा बैठने के लिए आग्रह किया जाए। कोविड टीकाकरण के समय अनिवार्य रूप से स्वास्थ्य परीक्षण करें। उन्होंने जिला टीकाकरण अधिकारी तथा एसडीएम को ग्रामों में आवश्यकता के अनुरूप वैक्सीन की डोज उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

जिम्मेदारी स्वीकार करते हुए परिणाममूलक कार्य करें

               कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि अधिकारी कर्मचारी पूरी क्षमता से कार्य करते हुए जिले को शतप्रतिशत वैक्सीनेट कराने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करें। स्थानीय जनप्रतिनिधि, संकट प्रबंधन समूह के सदस्य, स्वयंसेवी संगठनों के प्रतिनिधि, स्व-सहायता समूह के सदस्य, राजनैतिक दलों के कार्यकर्ता, युवामंडल सहित ग्राम के जागरूक लोगों का सहयोग लेते हुए ग्राम को शतप्रतिशत वैक्सीनेट कराएं। हर गांव की समिति अपने ग्राम को संपूर्ण वैक्सीनेट कराने की जिम्मेदारी स्वीकार करते हुए परिणाममूलक कार्य करे। जिले को शतप्रतिशत वैक्सीनेट कराने के लिए सम्मिलित प्रयास आवश्यक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here